भारत मे मल्टी लेवल मार्केटिंग का भविष्‍य क्या है, जाने कुछ ज़रूरी बातें


How does Multi Level Marketing Business Model Work?

भारत मे मल्टी लेवल मार्केटिंग लेवल यानि की MLM कोई नया कॉन्सेप्ट नही है जिसे हम आपको आज अवगत करवा रहे है, क्योकि इसका सीधा मतलब है की किसी भी इंसान को अपने लॉजिक से कोई प्लान जोइन करवाना और अपने और अपने साथ जुड़े हुए लोगो की इनकम करवाना. मतलब बिल्कुल साफ है इन सब प्लानो मे एक लीडर होता है जो अपने नीचे कुछ लोगो को जोड़ता है और उनके द्वारा किए गये इनवेस्टमेंट से कुछ इनकम कमाता है, फिर जब और लोग उन लोगो के नीचे जुड़ते है तो उपर की लाइन वाले सभी लोगो को उसका प्रॉफिट मिलता है. इस तरह एक चैन सिस्टम स्टार्ट होता है जिसमे हर एक इंसान अपने नीचे कुछ लोग जोड़ कर अपना इनवेस्ट किया हुआ पैसा वापस निकलना होता है |

Multi level marketing model. Photo by Pexels.com

आप मे से बहुत से लोग शायद इसके बारे मे बात नही करना चाहेंगे क्योकि लोगो के मान मे आम धारणा है कि इस तरह के मल्टी लेवेल मार्केटिंग प्लान या नेटवर्क मार्केटिंग प्लान मे कुछ ही लोग पैसा कमा पाते है और बाकी लोगो को नुकसान ही होता है. कुछ हद तक ये बात सही भी हो सकती है लेकिन इसके पीछे भी काई कारण हो सकते है जैसे कि:

  • किसी बहुत ज़्यादा पुराने प्लान मे जोइन करना जिसमे बहुत से लोग पहले ही जुड़ चुके हो – क्योंकि एसे प्लानो मे आपसे पहले बहुत लोग जुड़ चुके होते है और नये लोगो को जोड़ना बहुत मुश्किल होता है.
  • आपकी टीम मे निस्क्रिय मेंबर होना – अगर अपने अपनी टीम एसे लोगो से बनाई है जो केवल पैसे देकर जुड़ तो सकते है लेकिन आगे नये मेंबर नही जोड़ पाते है तो आपकी इनकम आना रुक जाएगी|
  • प्लान के बारे मे सही जानकारी नही होना – अक्सर लोग शुरू तो कर देते है लेकिन उन्हे इन प्लानो की पूरी जानकारी नही होती है इसी के चलते, पूरा लाभ नही मिल पाता है.

तो एसे ही कई और कारण भी है जिसकी वजह से लोग इन MLM प्लानो के मे पैसा कमा नही पाते है और अपनी मेहनत से कमाया हुआ धन गवा देते है.

MLM fraud gang busted in Hyderabad, Rs 200 Cr seized ...

लेकिन हम इसके भविष्‍य के बारे मे बात करेंगे. क्या भारत मे MLM प्लान का कोई भविष्य है या फिर एक समय के बाद ये सारी कंपनिया बंद हो जाएँगी. क्योकि अक्सर देखा जाता है की इस तरह की कंपनिया कुछ लोगो को प्रॉफिट करवा कर मार्केट से गायब हो जाती है, और रह जाते है कुछ छोटे और मासूम निवेशक जो एसे लोगो के बहकावे मे आकर अपने सुनहरे भविष्य के सपने देख लेते है और अपना कीमती समय और पैसा सब गवाकर ठगा सा महसूस करते है. बीते कुछ साल पहले इन कंपनियो का स्वर्णिम काल था जब इस तरह की कंपनिया कुकुरमुत्ते की तरह उग आई थी. इन कंपनिया मे लोगो ने बहुत से पैसे इनवेस्ट किए और बाद मे सिर्फ़ पछताने के अलावा कुछ भी नही मिला.
साल 2019 मे eBIZ नामक कंपनी ने लगभग 17 लाख लोगो से 5000 Cr. की ठगी की और बाद मे फरार हो गयी थी. पूरी स्टोरी पढ़ने के लिए यहा क्लिक करे. MLM के बारे मे रिसर्च करने वाली फर्म strategy india dot com ने एसे सेंकडो SCAM की लिस्ट अपनी वेबसाइट पर डाल रखी है जिसे देखकर सहज ही इस बात का अनुमान लगाया जा सकता है की ये किस तरह से लोगो को अपने जाल मे फसांती है और पैसे बना कर फुर्र हो जाती है. पूरी लिस्ट यहा पर देखे.
तो सरकार ने इन कम्पनियो से निपटने के लिए क्या किया
साल 2015 मे केंद्रीय सरकार ने इस तरह की कंपनियों पर नकेल कसने के लिए एक कमेटी का गठन किया जिसने इन कंपनियों पर कड़ी नज़र रखना शुरू किया और बहुत सी कंपनियों पर कार्यवाही शुरू कर दी है और उसके बाद ये दौर लगभग ख़तम या फिर बहुत कम हो गया है.

Latest news on mlm industry,MlM News India,MLM Dispute,MLM World ...
Direct Selling and Multi level Marketing  in India
FICCI: Government issues guidelines to regulate direct selling ...

तो भारत मे MLM का कॉन्सेप्ट ख़तम हो गया है?
एसा नही है की इस तरह के नियम और क़ानूनो से ये कंपनिया रुक जाएगी, अगर सरकार एक नियम लाती है तो ये कंपनिया उसकी खामियो का फ़ायदा उठाकर दूसरे रास्ते निकल लेती है और नये तरीके से लोगो को ठगने का काम करने लगती है.

अब नया क्या है MLM Business मे
सरकार द्वारा की गयी सख्ती का असर ये हुआ कि बहुत सी कंपनिया बिल मे घुस गयी लेकिन उन्होने दूसरे रास्ते खोजने शुरू कर दिए और उन्ही मे एक रास्ता है करेन्सी ट्रेड का. जी हाँ, लॉक डाउन मे जहा सारी दुनिया अपने घरो मे बंद होकर अपने अस्तित्व पर आए इस संकट के टलने का इंतेजार कर रही थी वही दूसरी और इस तरह की कंपनिया लोगो को करेन्सी ट्रेड के लिए तैयार कर रही थी.

Bahrain and Abu Dhabi Compete To Be Gulf's Cryptocurrency Hub

शेयर ट्रेडिंग कंपनी moneycontroldotcom के अनुसार भारत मे लॉकडाउन मे Cryptocurrency कारोबार मे 400% का उछाल देखा गया है.

लेकिन इसके साथ ही बहुत सारी पॉंज़ी स्कीम भी मार्केट मे आ गयी है और इससे लोगो का पैसा एकबार फिर से डूबने का ख़तरा बढ़ गया है. क्योंकि इन कंपनियो को इस बात का पता है की लॉकडाउन मे लोग कंप्यूटर स्क्रीन के सामने ज़्यादा समय बिता रहे है और इस दौरान इस ट्रेड मे भारी वृधि देखी जा रही है.

तो ऐसे में आम निवेशक क्या करे?
अब जबकि सरकार ने Virtual Currency लिए पॉलिसी फ्रेम्वर्क बनाना शुरू कर दिया है और कुछ कंपनीयो को काम करने की परमिशन मिल गयी है, इससे मे आने वाले टाइम मे भारत मे Cryptocurrency ट्रेडिंग मे बढ़ोतरी देखने को मिलेगी.


ऐसे मे हमारी सलाह ये है कि किसी भी स्कीम मे निवेश से पहले इस बात की जाँच ज़रूर कर ले कि वर्चुयल करेन्सी का मार्केट होल्ड्स कितना है और साथ ही ऐसी स्कीम मे इनवेस्ट करने के से पहले अपने Financial Advisor से सलाह ज़रूर लें.

करियर और इनवेस्टमेंट संबंधित सलाह के लिए हमे सबस्क्राइब करे

Processing…
Success! You’re on the list.

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s